Indian Army Status in Hindi

Army Status in Hindi

Hey Guys! What’s up? Are you searching for Indian Army Status/ Fauji Status 2019 (आर्मी स्टेटस/ फौजी स्टेटस)? Now don’t worry, because we have a big collection of Best Indian Army status in Hindi for Whatsapp and Facebook. Today Army/ Fauji brothers are using social media like Whatsapp, Facebook, and Instagram.  So StatusCrowd publishing a huge collection of army status for Army Soldiars and Guys. Please, read all status, #Salute_To_Indian_Army.

पुलवामा (जम्मू-कश्मीर) जिले में गुरुवार शाम हुए बड़े आतंकी हमले में सीआरपीएफ के शहीद 40 जवानो को स्टेटस क्राउड की टीम की ओर से श्रद्धांजलि।

#जय_जवान #जय_किसान

I Love Indian Army.

केवल #बेटियाँ_ही_घर नहीं छोड़ती, कुछ होनहार ऐसे #बेटे भी जो अपनी जान की बाज़ी लगाकर अपने देश की रक्षा करते है। #Indian_Army

न आरजू जन्नत की, ना ही मौत की फिक्र, चाहती हैं जिंदगी बस, शहीदों में हो जिक्र।

फौजी है जिंदगी हमारी, अंत इसी में होगा

बारूद बन कर चिता जलेगी, कफन वर्दी का होगा। #वीर_जवान

सदमे में है तिरंगा भी, कहता है…लहराया कम और कफन पर ज्यादा चढ़ाया जा रहा हूं।

मरते तो वह है जो खुद के लिए जीते हैं….जो दूसरों के लिए जीते हैं वह तो शहीद होते हैं।

ना शान-ओ-शौकत की परवाह है, ना ही धन और दौलत की भूख, दुश्मनों की खोज में घूमे शरहद पर, रख के हाथों में बंदूक।

ख्वाब टूटे हैं मगर हौसले जिंदा है, हम वो है जहां मुश्किलें शर्मिंदा है।

है कफन सर पर तना हुआ, दिल में देश प्रेम भर लेता हूं, दुश्मन को अपनी चीख से ही ध्वस्त कर देता हूं।

दिल से नफरत को निकाल फेंको, अब तो पत्थर नहीं गुलाल फेंको।

आ चीर मेरी छाती और देख!

क्या जूनून रखता हूँ।

जिस्म पर बस वर्दी नहीं,

दिल में वतन रखता हूँ।

देश के लिए कुर्बान हो जाना नसीब से मिलता है,

इसलिए संग में थोड़ी मिट्टी और कफ़न रखता हूँ।

हम महफूज रहे त्योहारों में वो सरहद में गोली झेलता है, जरा उन्हें भी याद कर लो जो खून से होली खेलता है।

तालीम नहीं दी जाती परिंदों को उड़ाने की, वह खुद ही नाप लेते हैं ऊंचाइयां आसमानों की।

गुमनाम है वतन पर मर मिटने वाले, देशद्रोही नारे लगाकर कुछ मशहूर हुए जा रहे हैं।

जिंदगी तो अपने दम पर ही जी जाती है….दूसरों के कंधों पर तो सिर्फ जनाजे उठाए जाते हैं – भगत सिंह

अपने देश को बचाने के लिए समझदार नहीं, पागल बनना पड़ता है।

बोला खुदा – कतार बहुत लंबी है, अभी जाने वालों की, कमी नहीं है मेरे मुल्क में, उसपर मिटने वालों की।

चीर के बहा दो, लहू दुश्मन के सीने का, यही तो मजा है फौजी हो के जीने का।

तुझे लहराता देखने को जान लगा देंगे हम, हर कुर्बानी देंगे हम,

कोई सोच भी ले तुझे झुकाने की, नहीं किसी में इतना दम…

नहीं आसान है यारों फौजी होना, दूसरों की सलामती के लिए, अपना सब कुछ खोना।

देशभक्ति की महक अब मेरे कपड़ों से भी आने लगी है, अब तो मेरी धड़कन भी जय हिंद गाने लगी है।

चलो आज वादियों का मौसम बदला जाए, दुश्मनों को अपने हुनर का शोर सुनाया जाए।

तैयारी चल रही है, तिरंगे को झुकाने को,

झुकने ना देंगे, मां तेरे लाल खड़े हैं सर कटाने को।

कभी देखो देश से प्यार करके, मेहबूबा कि बाहो से ज्यादा सुकून है, देश की मिट्टी में।

मैं तो मरने गया था फौज में, लेकिन वहां तो मुझे जीने का नया ही कारण मिल गया।

जंग लगी तलवारों पर अब फिर से धार चढ़ानी होगी….

हिंदुस्तान पर आंख उठाने वालों को अपनी औकात दिखानी होगी…

जब कोई मेरी मां से पूछता है कि बहू कैसी चाहिए?

तो मेरी मां बड़े प्यार से कहती हैं…..

मेरा बेटा बिगड़ा हुआ एक फौजी है

उसे सुधारने के लिए एक फौजन चाहिए।

कोई हस्ती कोई मस्ती

कोई चाह पर मरता है,

कोई नफरत कोई मोहब्बत

कोई लगाव पर मरता है,

यह ग्रुप है उन दीवानों का

यहां हर बंदा,

अपने हिंदुस्तान पे मरता है।

वतन पर शहीद होने वाला अंजाना नहीं कोई अपना था, जो जाते-जाते खुशबू-ए-अमन छोड़ गया।

इश्क तो करता है हर कोई

महबूब पर मरता है हर कोई

कभी वतन को महबूब बना कर देखो

तुझ पर मरेगा हर कोई

दुश्मन हमारे रहमों करम को पुकारेंगे, जब एक-एक कि हम गर्दन उतारेंगे।

घर पर बैठी मां ने आज भी रोटी ना खाई है, सरहद से जब बेटे की कोई खबर नहीं है।

मुल्क के घुसपैठियों का तो अभी जवाब दे दूं, लेकिन वादियों में बैठे पनाहगारों का कौन हिसाब ले।

मुझे तेरा मजहब,

मुझे मेरा देश मुबारक…..

तुझे आजादी,

मुझे मेरा फौजी मुबारक…..

बर्फ हो या रेत आखरी सांस तक सीमा पर पहरा वह देता है, नौजवान अपने देश को ही अपना वेलेंटाइन बनाता है।

बचपन में एक खरोच भी आती थी तो रो पड़ती थी मेरी मां, काश आज उठ कर खड़ा होकर यह बोल पाता मैं कि बस सो ही तो रहा था मेरी भोली मां।

कई खेल गए अपनी जान से, ताकि तिरंगा लहरा सके शान से।

बर्फीले तूफान में कोई अपना खो गया है, दिन के अंधेरे में हमेशा के लिए सो गया है।

फना होने की इजाजत ली नहीं जाती, यह वतन की मोहब्बत है जनाब, पूछकर नहीं की जाती।

बहुत दिखाएं गांधी हमने, भगत सिंह को अब दिखाना है, पापा अब मुझको मत रोको, मुझको सरहद पर जाना है।

कभी ना भुला पाएंगे ऐ-वीर तेरी कुर्बानी, हर देश प्रेमी की जुबां पर रहेगी तेरी अमर कहानी।

नमन है उस मां को, जिसने ऐसा सपूत दिया, जो हाथों में तिरंगा लिए, सरहद पर शहीद हुआ।

नहीं झुका सकती हौसलो को ये ठंड की तेज हवाएं, क्योंकि मन में जल रही है शहीदों की आज की चिताए।

तुम यह सोच कर बाहर नहीं निकलते की ठंड है, वह यही सोच कर बाहर निकलते हैं कि तुम्हें ठंड में लगने पाए।

पहचान कफन से नहीं होती है…लाश के पीछे काफिला बयां कर देता है, हस्ती को….

जिंदगी खूबसूरत है, क्योंकि अपना मान कर कोई सरहद पर जो खड़ा है।

आज फिर से कैंटीन की सूखी रोटी खाई है, मां आज तू फिर से बहुत याद आई है।

कश्मीर में शाम की गुलाबी ठंड और हरे रंग की वर्दी, किस्मत वालों को ही नसीब होती है।

हर परिस्थितियो में होसला है बुलंद। #भारतीय_सेना

मैं फौजी होने पर गर्व करता हूँ, क्योकि मेरी एक नहीं दो माँ है। #Bharat_Maa

हौसलो में हम आपने बारूद रखते हैं, भारत माँ के कदमो मे जान मौजूद रखते हैं, हस्ती तक मिटा दे दुशमन की हम, हाँ फौजी है हम जिगर फौलादी रखते हैं।

आर्मी का जवान ही है जो, अपनी जवानी को देश के नाम कर देता है। #Army_Sacrifice

आज एक फौजी उन गद्दारो की रक्षा में खड़ा है, जो आपने देश के लिए ही खतरा है। #Jindadili

फौजी को पैसा नहीं, इज़्ज़त की जरुरत है। #Respect_Fauji

ना किसी #हुस्न की चाहत है, बस मेरा तिरंगा ही मेरी #ताकत है,

मैं तो #आशिक हूं इस तिरंगे का, और मेरा महबूब मेरा #भारत है।

एक असली आर्मी बॉय वो जो अपनी खुशियों को बैग में रख कर, देशवासियो की ख़ुशी के लिए बॉर्डर पर पहरा देता है। #Salute_Army_Boy

दुश्मन का टूट जाता है होसला, जब भारत माँ के जवान, लगाते है दहाड़।

दोस्ती में दगा नहीं, और झुकना हमारी फितरत नहीं।

हमारी होती है #होली_दीवाली सीमा के अंधेरो पर, तुम जी भर के दिये जलाओ। #मेरे_देशवासियो।

हर वक़्त मेरी आँखों में देशप्रेम का स्वप्न हो,

जब कभी भी मृत्यु आये तो तिरंगा मेरा कफन हो,

और कोई ख़्वाहिश नही ज़िन्दगी में,

जब कभी जन्म लू तो भारत मेरा वतन हो। #India_Army

सह लिया बहुत आत्याचार ए-दुश्मन अब, या तो हम मरेंगे या फिर वो। #Army

धोखे का तो सवाल ही नहीं मेरे वतन के साथ, जान तक हाजिर है मेरे वतन के लिए के लिए।

कभी जमा देने वाली ठण्ड, तो कभी जला देने वाली गर्मी, कैसे होती हैं हिफाजत मुल्क की, कभी सरहद पर चल कर देख लेना।

दिल टुकड़ों में तब बिखर गया जब एक शहीद फौजी की मां बोली…साहब 1 इंच कद कम होने पर आप आर्मी में नहीं लेते, तो मैं 1 फुट छोटी लाश कैसे ले लूं?

गुजारिश है इन हवाओं से, आज जरा तेज बहे, बात मेरे देश की शान तिरंगे को लहराने की है

मैं कुछ खास तो नहीं…मगर मेरे जैसे लोग कम है – इंडियन आर्मी

एक सैनिक ने खूब लिखा है-

किसी गजरे की खुशबु को महकता छोड़ आया हूं,

मेरी नन्ही सी चिड़िया को चहकता छोड़ आया हूं,

मुझे छाती से अपनी तू लगा लेना ए भारत मां,

मैं अपनी मां की बाहों को तरसता छोड़ आया हूं,

किसी को उजाड़ कर बसे तो क्या बसे, किसी को रुला कर हंसे तो क्या हंसे,

हम है भारत मां के सच्चे सैनिक, जो खुद मर जाते हैं दूसरों की खुशियों के लिए।

जब मुल्ले को मस्जिद में राम नजर आए,

जब पंडित को मंदिर में रहमान नजर आए,

सूरत ही बदल जाए इस दुनिया की,

अगर इंसान को इंसान में इंसान नजर आए।

फौजी भी कमाल के होते हैं पर्स में परिवार और दिल में देश रखते हैं।

मेरा एक ही लक्ष्य है – इंडियन आर्मी

जहां सज्जन होते हैं वहां ‘संवाद’ होते हैं, जहां मूर्ख होते हैं वहां ‘विवाद’ होते हैं

क्यों मरते हो यारो ‘सनम’ के लिए…ना देगी दुपट्टा ‘कफ़न’ के लिए….

मरना है तो मरो ‘वतन’ के लिए, ‘तिरंगा’ तो मिलेगा कफ़न के लिए….

लाचारी क्या होती है यह उस जवान से पूछो…जो हाथ में ak-47 लेते हुए भी पत्थर खा रहा है।

धरती मेरी माँ है, और खुला आश्मान उसका पल्लू। #Army_Boys

आर्मी तो है देश की शान है, और जिन्दादिली है इसकी पहचान।

जब आँख खुली तो धरती हिन्दुस्तान की हो,

जब आँख बंद भी हो तो धरती हिन्दुस्तान की हो,

मै मर भी जाऊ तो कोई गम नही पर,

मरते वक्त भी मिट्टी हिन्दुस्तान की हो। #Indian_Army

न झुकने दिया तिरंगे को न युद्ध कभी ये हारे हैं, भारत माता तेरे वीरों ने दुश्मन चुन-चुन कर मारे हैं।

वतन की मोहब्बत में, खुद को तपाये बैठे हैं, मरेंगे सिर्फ वतन के लिए, शर्त मौत से लगाये बैठे हैं।

बहुत सह लिया उनकी नापाक हरकतों को, अब ईट का जवाब पत्थर से देंगे।

जब-जब भारत माता के दामन पर किसी ने नजर उठाई है, तब-तब भारत माँ के जवानो ने दुश्मन को उसकी औकात दिखाई है।

घरवालों को लौट आने की उम्मीद देकर जाता है,

जीत जायेंगे जंग, मैं में प्रण करके जाता है।

बेखोफ छुड़ाता है छक्के दुश्मन के,

अजी फौजी है जनाब, तिरंगा लहरा के आता है।

ना पूछो जमाने को, क्या हमारी कहानी है, हमारी पहचान तो सिर्फ यह है कि हम सिर्फ हिंदुस्तानी हैं।

जंग जीतने के बाद जब पूरा देश है खुशी मनाने में मशगूल था, तब उसी जीत का हीरो, अपने साथी को बचाने की जंग लड़ रहा था।

एक वो नागरिक है जो बेवजह किसी के लिए जान देते नहीं, और एक वो नागरिक जो हमारा वजूद मिट ना जाए इस कारण किसी को सरहद पार करने देते नहीं।

किसी ने पूछा, ‘ फौजी क्यों ज्वाइन की?’  हमने भी कह दिया, ‘उधार की जिंदगी थी, कर दी देश के नाम’

ईमानदारी की चादर ओढ़ी है, पर जिस दिन दिमाग सटका ना, इतिहास तो इतिहास भूगोल भी बदल देंगे।

जिस जिंदगी को तूने ‘फिक्र’ में जिया,  उसी जिंदगी को उसने ‘फक्र’ से जिया,

अंतर बस इतना था कि….तू जिया ‘वेतन’ के लिए और वह जिया ‘वतन’ के लिए।

वह दिन भी आएगा जिस दिन मिट्टी का कर्ज चुकाऊंगा, शहीदी मिलेगी शान से और तिरंगे में लिपटकर घर जाऊंगा।

सिर्फ मर्द ही क्यों औरत भी देश की शान है, जन्म दिया उसने एक वीर जवान को, जिसकी जिंदगी अब देश के नाम है।

रिवायत सी बन गई है देशभक्ति तो जनाब, बस लोग तारीखों पर फर्ज अदा करते हैं।

हमारा तो सारा जीवन ही भारत माँ के नाम है।

उनको क्या सफलता मिलेगी जो निर्भर हो गैरो पे, मंजिले तो उनको मिलती है जो चलते है अपने पैरो पे।

नींद उड़ गयी मेरी ये बात सोचकर, आखिर किया ही क्या है मैंने देश के लिए, आज फिर से खून बहा है सरहद पर, मेरी चैन की नींद के लिए।

हम चैन से सो पाए इसलिए वो हमेसा के लिए चैन की नींद सो गया,

वो एक फौजी ही था जो आज फिर शहीद हो गया।

आसान नहीं है एक फौजी बनना, किसी और की खुशियों के लिए मरना पड़ता है।

जब भी जिक्र हीरो का होगा, तो सबसे पहला नाम मेरे देश के वीरो का होगा। #India_Army

वो एक फौजी ही है, जो हमारी खुशियों के लिए, खुद की खुशिया घर छोड़कर शरहद पर खड़ा रहता है। #Salute_To_Indian_Army

किसी गजरे की खुशबु को महकता छोड़ आया हूँ,

मेरी नन्ही सी चिड़िया को चहकता छोड़ आया हूँ,

मुझे छाती से अपनी तू लगा लेना ऐ भारत माँ,

मैं अपनी माँ की बाहों को तरसता छोड़ आया हूँ। #जय_हिन्द

सरहद पर एक फौजी अपना वादा निभा रहा हैं, वो धरती माँ की मोहब्बत का कर्ज चुका रहा हैं।

अगर दुश्मन समझाने से मान जाते, तो मीठी-मीठी बासुरी बजाने वाला कृष्ण महाभारत नहीं होने देता।

मैं भारत माँ का वीर पुत्र हूँ, दुश्मन के सीने को अपने हाथो से फाड़ने की हिम्मत रखता हूँ।

जिनके चेहरे पे मुस्कान, और पांव में छाले है, हाँ वही मेरे देश के असली चाहने वाले है। #Army

मेरे मुल्क की हिफाज़त ही मेरा फ़र्ज है, और मेरा मुल्क ही मेरी जान है, इस पर कुर्बान है मेरा सब कुछ, नही इससे बढ़कर मुझको अपनी जान है। #जय_हिन्द

जो अब तक ना खौला, वो खून नहीं पानी है, जो देश के काम ना आये, वो बेकार जवानी है।

दुश्मन को माफ़ करने का काम सिर्फ भगवन का है, लेकिन उनको वह तक पहुंचने का काम हमारा है। #Indian_Army

बड़े खुश नसीब है जो भारतीय सेना के शेरो का शिकार करते है, हमे तो कुत्ते को मरने पड़ता है।

बहुत देखा लिया भाईचारा ए-दुश्मन, अब तू आपने हदे पार करने लगा है, अब तो तुझे मौत ही मिलेगी।

अफ़सोस तो मुझे इस बात का है की, मेरे वतन के लिए मेरे पास एक ही जान है।

आज ले रहे है हम चैन की सांस हमारे घर पर, क्योकि कोई अपनी जान हथेली पे लेकर खड़ा है सीमा पर। #जय_हिन्द

क़ुरबानी का असली मतलब कोई फौजी से पूछे, क्योकि वो हो जाते है शहीद किसी और की जान बचने के लिए।

फौजी की रगो में जज्बात नहीं, लोहा भरा होता है।

दूध मांगोगे तो खीर देंगे, हिन्दुस्तान की तरफ ऊँगली भी उठाई तो बीच में से चीर देंगे।

मुझे गर्व है एक फौजी होने पर, क्योकि मौत के बाद कफ़न में तिरंगा सबको नसीब नहीं होता।

खाई है कसम मैंने मेरे देश की रक्षा की, इस पर आंच भी आई तो जान की बाज़ी लगा दूंगा।

असली हीरो तो हमारे भारतीय सेना के जवान है, जो दिन-रात और ठंडी-गर्मी में 24 घण्टे बॉर्डर पर पहरा देते है।

ये दिल मांगे मोर – कैप्टन विक्रम बत्रा

वो लड़की खुश किस्मत होती है, जिसकी शादी एक फौजी से होती है।

भारतीय सेना का जवान सामने दुश्मन से इसलिए नहीं लड़ता की उसके उनसे नफरत है, वो इस लिए लड़ता है क्योकि उसे अपने पीछे वालो से प्यार है। #Salute_To_Fauji

हम सब का एक ही नारा है, हमे आपना भारत और भारत माँ का जवान सबसे प्यारा है।

धोखा हमारी फितरत नहीं इसलिए धोखा खा गए, वो चाल चल रहे थे और हम रिश्ते निभा रहे थे।

ए-दुश्मन तूने हमारे घरो में झाकने की कोशिश भी की, तो तुम्हे तुम्हारे घर में घुस कर मरेंगे।

अगर मै आगे बढ़ता हूँ तो हो सकता है की मैं मर जाऊं, और पीछे हटू तो ये मेरे तिरंगे का अपमान है, इसलिए हम हमेशा आगे ही बढ़ते रहते है। #Move_Forward

मेरा जीवन अब भारत माँ के नाम है, अब मैं मरु या जीऊ कोई फर्क नहीं पड़ता।  #वन्दे_मातरम

फौजी के जज्बे को देखकर दुश्मन तो क्या, हवाओ को भी आपने रुख बदलना पड़ता है।

फौजी की जंदगी को राजनीती मत बनाओ, चंद वोटो के लिए,

वो तो शहीद हुआ है, अपने फर्ज के लिए। #Proud_Indian_Army

सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है, देखना है जोर कितना बाजुए कातिल में है।

कौन कहता है पहली नजर में इश्क नहीं होता,  वतन से किया था आज तक वफा निभा रहा हूं।

मुझे हर उस बंदे पर गर्व है जो आर्मी की तैयारी कर रहा है, क्योंकि जिगरा चाहिए देश की रक्षा करने के लिए।

फौज में नहीं हूं तो क्या?

मगर यह दिल तो फौजी है।

बंदूक की जुबा हमें नहीं आती है,

पर देश के लिए कुछ कर गुजरने का जुनून तो है।

एक ‘फौजी’ कितना भी बूढ़ा हो जाए, कहलाता ‘जवान’ ही है।

हमारी शोहरत को तुम क्या पहचानोगे ऐ-दुश्मन, जब हम मस्जिद के पास से भी गुजरते हैं तो मौलवी कहता है राम-राम फौजी साहब….

जब सैनिक जागता है तभी यह देश होता है, फिर भी क्यों हर बार सैनिक का ही घर होता है…

शेरो के पुत्र शेर ही जाने जाते है, लाखो के बीच ‘फौजी’ पहचाने जाते है।

जिस देश का झंडा खुद कुदरत फेहराये, मजाल है दुश्मन भी उस देश का कुछ बिगड़ पाए।

Also Read:-

If you like please Share on Whatsapp and Facebook.

Please read other statuses ⇓⇓⇓⇓⇓⇓⇓⇓⇓